2020 में अभी भारत के शिक्षा मंत्री कौन है? – Who is the Shiksha Mantri of India right now?

अभी भारत के शिक्षा मंत्री कौन है? – Who is the Education Minister of India Right Now?, Bharat Ke Shiksha Mantri Kaun Hai ?,

वर्त्तमान में भारत के शिक्षा मंत्री है, रमेश पोखरियाल निशंक Ramesh Pokhriyal Nishank जिसने 2019 में अपना होदा सभरत के शिक्षा मंत्री के रूप में संभाला. भारत में शिक्षा मंत्री HRD यानि की ह्यमन रसौर्स मिनिस्टर के रूप में जाने जाते है. जो की यूनियन केबिनेट के मेंबर भी है. अब आपको अपने सवाल का सही जवाब मिल गया होगा उनके बारे में विस्तृत जानकारी पाने के लिए आप निचे पढ़ सकते है.

Who is the Shiksha Mantri of India right now अभी भारत के शिक्षा मंत्री कौन है 1
Who is the Shiksha Mantri of India right now

रमेश पोखरियाल का जन्म 15 जुलाई 1959 में हुआ था. उनके नाम निशंक से जाने जाते है. निशंक एक भारतीय राजनेता हैं जो दूसरे मोदी मंत्रालय में मानव संसाधन विकास मंत्री के रूप में शपथ लियी. वह 17 वीं लोकसभा में उत्तराखंड के हरिद्वार संसदीय क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं. वह 2009 से 2011 तक उत्तराखंड के 5 वें मुख्यमंत्री थे। वह 16 वीं लोकसभा के सदस्य और सरकारी आश्वासन समिति के अध्यक्ष थे.

Also Read- Top 10 Motivational Quotes In Hindi V1

निजी जीवन (About Personal Life)

पोखरियाल का जन्म पिनानी गाँव, पौड़ी गढ़वाल, उत्तराखंड में परमानंद पोखरियाल और विशम्भर देवी के यहाँ हुआ था. उन्होंने हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय से M.A की डिग्री प्राप्त किए थी, उन्होंने ने 7 मई 1985 को कुसुम कांता पोखरियाल से शादी की, और अभी उनकी तीन बेटियाँ हैं. उनकी एक बेटी, आरुशी निशंक एक क्लासिकल डांसर है। उनकी पत्नी का देहांत 11 नवंबर 2012 को देहरादून में 50 वर्ष की आयु में हुआ था.

राजनीतिक कैरियर (Political Career)

पोखरियाल ने अपने करियर की शुरुआत राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े सरस्वती शिशु मंदिर में एक शिक्षक के रूप में की थी. वह पहली बार 1991 में कर्णप्रयाग निर्वाचन क्षेत्र से उत्तर प्रदेश विधान सभा के सदस्य के रूप में निर्वाचित हुए, उन्होंने सतत पांच बार कांग्रेस विधायक को हराया। वह 1993 से 1996 दरमियान में एक ही चुनाव क्षेत्र से फिर से चुने गए. 1997 में उन्हें उत्तरांचल विकास मंत्री के पद पर शपथ लिए। वह उत्तराखंड के 2009 से 2011 तक मुख्यमंत्री रहे और उन्होंने लोकसभा के 17 वें सत्र के सदस्य और आश्वासन समिति के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया.

अभी वह लोकसभा में हरिद्वार निर्वाचन क्षेत्र के प्रतिनिधि हैं। वह 1991 से 2012 तक लगातार पांच बार उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड की विधान सभा के सदस्य रह चुके है. उन्हें पहली बार 1991 में कर्णप्रयाग वार्ड में चुना गया था और उन्होंने लगातार तीन कार्यकाल तक उस वार्ड के लिए अच्छे कार्य किये. 2014 में, उन्होंने डोईवाला से इस्तीफा दे दिया, और हरिद्वार लोकसभा के लिए चुने गए. 30 मई 2019 को, उन्होंने दूसरी मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली जिनमे उनका होंदा HRD (Shiksha Mantri) मिनिस्टर का है और अभी भी ओहिस होदे पे अपनी सेवा दे रहे है.

पहले के 10 शिक्षा मंत्री की सूची (10 Recent Education Minister List)

यहाँ पर निचे आपको एक सूचि मिलेगी जिसमे हमने दर्शाया है की पहले के १० Shiksha Mantri कोन था और उनके कार्य कल क्या थे, उसके अलावा वह कोनसी पार्टी द्वारा चुने गए थे वहभी आपको निचे मिलजाएगे. उनमे से कुछ शिक्षा मंत्री ने अपना पूरा कार्यकाल संपूर्ण किया है और थोड़े ऐसी भी है जो बहोत ही कम समय के लिए पद पर रहे थे और बाद में उन्होंने किसी और पद को संभाला होगा.

NoName of Shiksha MantriTermParty
1Pamulaparthi Venkata Narasimha Rao1996 to 1996Indian National Congress
2Atal Bihari Vajpayee1996 to 1996Bharatiya Janata Party
3S. R. Bommai1996 to 1998Janta Dal
4Murli Manohar Joshi1998 to 2004Vharatiya Janta Dal
5Arjun Singh2004 to 2009Indian National Congress
6Kapil Sibal2009 to 2012Indian National Congress
7Mallipudi Mangapati Pallam Raju2012 to 2014Indian National Congress
8Smriti Irani2014 to 2016Bharatiya Janata Party
9Prakash Javadekar2016 to 2019Bharatiya Janata Party
10Ramesh Pokhriyal2019 to CurrentBharatiya Janata Party

भारत के आज़ाद होने के बाद से जब पहली सर्कार बनी उस बाद से अबतक ३१ बार इस पद को अलग अलग व्यक्ति द्वारा सभाला गया है और कही बार एक ही व्यक्ति ने बार दो बार शिक्षा मंत्री द्वारा शपथ लिए और अपना कार्यभार संभाला है. इस पोस्ट को लिखने के लिए हमने विकिपीडिया का रेफरन्स लिया है जिसका लिंक मैंने निचे दिया हुआ है अगर आप अबतक के सभी शिक्षा मंत्री की सूचि जानना चाहते है तो आप Wikipedia में जा कर उनका कार्यकाल, उनके नाम और और वह कोनसी पार्टी के थे वह सब detail में जान सकते है.

Wikipidia

Leave a Comment